★ माधवी नाटक का सार

माध्वी नाटक

काशी हिन्दू विश्वविद्यालय में ‘माध्वी’ का नाट्य-मंचन काशी के सांस्कृतिक गौरव की पहचान है। ‘माध्वी’ महाभारत के उद्योग पर्व से ली गई एक संवेदनशील कथा है। इसमें कथा नायिका माध्वी एक पितृसतात्मक समाज में विडंबनापूर्ण जीवन जीने को अभिशप्त है। पुरुषार्थ दंभ के प्रबल आवेग में माध्वी के खुद का कोई अस्तित्व नहीं। माध्वी अपने महत्वाकांक्षी पिता राजा ययाति द्वारा मुनिकुमार गालव को भेंट कर दी जाती है। कारण यह है कि वह मुनिकुमार गालव के 800 अश्वमेधी घोड़ों की याचना को पूरा नहीं कर पाता है। दूसरी ओर मुनिकुमार गालव ऋषि विश्वामित्र को गुरुदक्षिणा के रूप में 800 अश्वमेधी घोड़ों को देने के लिए वचनबद्ध है। म ...

                                     
  • क रण व म धव क एक ल ख र पय भ नह द प त ह म धव उस अपन स र सच च ई बत त ह और उसस बदल म उसक पर व र व ल क स मन भ श द क न टक करन क
  • स प र ण श स त र तथ अन भ त य क स र अ तर भ क त क य गय ह इसम एक सहस त र घ ष ए ह म धव क दल श र म त क अ त म समय The Telegraph news paper
  • ऋग व द क ब गल अन व द क य भ रत य अर थश स त र क भ व ल खक थ और उन ह न कई उपन य स भ ल ख - 1. र जप त ज वनस ध य 2. मह र ष ट र ज वनस ध य 3. म धव क कण
  • अन नप र ण क म द र म र स म टरल क क न टक स स टर व ट र स क मर म न व द उन म क त क ब धन म र स म टरल क क न टक द य ज ल स ड ल वर न स क छ य न व द
  • न टक क अन व द ह न लग इस समय क छ न टक क पन य भ स थ प त ह ई ज नक ल ए व श ष र प स प र ण क तथ क त हलवर धक स म ज क न टक ल ख गए ऐस न टक म
  • म ह उनक स म ज क एव र ष ट र य न टक छ त र द र दश एव अत न टक यत य क त व य ग य - व न दपरक ग र म य व व ह आद न टक न कल ल चन प रस द प ण ड य क क व य
  • सख त स न ट य श स त र क प लन करत ह कल क इस र प म भ स क न टक बह त प रस द द ह न ट य च र य स वर ग य पद म श र मण म धव चकय र - अव व द त र प स
  • त ल ग क स ह त य त ल ग : త ల గ స హ త య त ल ग स ह त यम अत यन त सम द ध एव प र च न ह इसम क व य, उपन य स, न टक लघ कथ ए तथ प र ण आत ह
  • मलय लम क न टक स ह त य स पन न ह स स क त न टक क अन करण और अन व द क य ग क उपर त गद य न टक क भ क छ अन करण आ गए आध न क गद य न टक क प र वग म
  • कह न य 1994 ब ब झ ल न थ व य ग य, 1994 समय एक न टक लल त न बन ध, 1994 बच च क श क ष प रद न टक 1994 भ तर श र बह त ह ग ज ल 1996 र जन त
  • ज त ह क य क इसम एक व यक त क ज वन क स र ह और इसम मह भ रत क ल स द व पर तक क ष ण क सभ ल ल ओ क वर णन ह ऐस म न यत ह क यह महर ष व दव य स
                                     
  • म धव और छ ट द ल हन, श त न, च द रमण मह म य और क म य न मक ड यन श म ल ह त ह प त ल द व - ग यत र और क ल क पर ज त करन क द र न, स मर क ज वन
  • म अन व द ह आ और अ तरर ष ट र य स तर पर ख य त म ल कमल मलय लम भ ष म म धव क टट क न म स ल खत थ और उन ह वर ष 1984 म न ब ल प रस क र क ल ए
  • और र पक क मध यवर त अथव समन व त र प In Between Song and Drama म नत ह परन त जयद व न अपन इस क त क सर ग म व भ जन करक इस न टक क स थ न
  • स ह त य क पत र क ज य त क स प दन - प रक शन क य इस प रक शन म उनक सबक छ ब क गय यह तक क पत न त र परद श क स र ज वर भ ब क गए द ल ल प र स
  • आद क क व य क व षय बन य ड क टर भव न प रस द न ब न द ल कह वत म ह वर क क व य म व षय बन कर अपन व च र द ए ऐन नन द न स द ध त स र न मक ग रन थ
  • क य रवर ष क प रत प क वर णन र जश खर न व द श ल म ज क न टक म भ क य ह कलच र य न लक षमणद व, ग ग यद व, कर ण, गय कर ण, नरस ह, जयस ह आद क श सन क ल सम द ध प र ण
  • सम क ष द और अपन सम क ष क यह ल ख क फ ल म भ वन त मक भ व क स थ एक ठ स न टक ह सकत ह ल क न द स त र द व र श नद र अभ नय क ब वज द, यह स र फ और स र फ
  • ह क इस शब द य ग म कल र पय ट ट क प र च नतम प रय ग ब सव शत ब द क श र आत म उल ल र एस.परम स वर अय यर क न टक अम ब म ह आ थ तब स भवत इस य द ध
  • म र डन र ल ग स ट कग इड - प स ग प त म ल य र क द न टक - वज रन थ म धव ब जप य म हन र क श क न टक म म थक और यथ र थ - अन पम शर म म हभ ग - अश क क म र
  • शत ब द अज ञ त - - छन द रत नमञ ज ष ठ शत ब द भट ट हल य ध - - छन दश स त र क भ ष य व शत ब द लक ष म न थस तचन द रश खर - - प ङ गलभ व द य त च त रस न

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →