★ ट्रांजिस्टर परिभाषा

ट्रांजिस्टर के मॉडल

ट्रांजिस्टर एक सरल युक्ति है किन्तु इनका व्यवहार उतना सरल नहीं है। इसलिए, ट्रांजिस्टर वाले परिपथों के विश्वसनीय रूप से काम करने के लिए आवशयक है कि उनका मॉडलन ऐसे किया जाय कि वह ट्रांजिस्टर के व्यवहार का सभी स्थितियों में सही तरह से प्रतिनिधित्व कर सके। ट्रांजिस्तर के बहुत सारे मॉडल बनाए गये हैं जो जटिलता में अलग-अलग हैं और विभिन्न उद्देश्यों की पूर्ति करते हैं। इन मॉडलों को दो भागों में बांटा जा सकता है, युक्ति की डिजाइन में सहायक मॉडल तथा परिपथ की डिजाइन में सहायक मॉडल। ट्रांजिस्तर के प्रमुख मॉडल ये हैं- बीसिम३ BSIM3 MEXTRAM H-प्राचल मॉडल H-parameter model BSIMSOI PSP संकर पाई मॉडल Hybrid ...

८०७ ईसा पूर्व

८०७ ईसा पूर्व ईसा मसीह के जन्म से पूर्व के वर्षों को दर्शाता है। ईसा के जन्म को अधार मानकर उसके जन्म से ८०७ ईसा पूर्व या वर्ष पूर्व के वर्ष को इस प्रकार प्रदर्शित किया जाता है। यह जूलियन कलेण्डर पर अधारित एक सामूहिक वर्ष माना जाता है। अधिकांश विश्व में इसी पद्धति के आधापर पुराने वर्षों की गणना की जाती है। भारत में इसके अलावा कई पंचाग प्रसिद्ध है जैसे विक्रम संवत जो ईसा के जन्म से ५७ या ५८ वर्ष पूर्व शुरु होती है। इसके अलावा शक संवत भी प्रसिद्ध है। शक संवत भारत का प्राचीन संवत है जो ईसा के जन्म के ७८ वर्ष बाद से आरम्भ होता है। शक संवत भारत का राष्ट्रीय कैलेंडर है।

९८३ ईसा पूर्व

९८३ ईसा पूर्व ईसा मसीह के जन्म से पूर्व के वर्षों को दर्शाता है। ईसा के जन्म को अधार मानकर उसके जन्म से ९८३ ईसा पूर्व या वर्ष पूर्व के वर्ष को इस प्रकार प्रदर्शित किया जाता है। यह जूलियन कलेण्डर पर अधारित एक सामूहिक वर्ष माना जाता है। अधिकांश विश्व में इसी पद्धति के आधापर पुराने वर्षों की गणना की जाती है। भारत में इसके अलावा कई पंचाग प्रसिद्ध है जैसे विक्रम संवत जो ईसा के जन्म से ५७ या ५८ वर्ष पूर्व शुरु होती है। इसके अलावा शक संवत भी प्रसिद्ध है। शक संवत भारत का प्राचीन संवत है जो ईसा के जन्म के ७८ वर्ष बाद से आरम्भ होता है। शक संवत भारत का राष्ट्रीय कैलेंडर है।

                                     
  • ह ज त ह पर भ ष - वह ट र ज स टर प रवर धक ज ऑड य आव त त हर ट ज स क ल हर ट ज स गनल क प वर स तर क बढ त ह ट र ज स टर आड य शक त
  • प वर प र प त ह ज त ह पर भ ष - वह ट र ज स टर प रवर धक ज ऑड य आव त त स गनल क प वर स तर क बढ त ह ट र ज स टर आड य शक त प रवर धक कहल त
  • अध क ह इस व क स न प र पर क य द च छ क अभ गम म म र और ड स क क ब च क पर भ ष क ध धल करन श र कर द य ह और ख स त र पर इनक क र य - न ष प दन क अ तर
  • थ ह ल क इनम क ई म इक र प र स सर श म ल नह थ ल क न इन ह ट र ज स टर - ट र ज स टर ल ज क ट ट एल क आस - प स बन य गय थ 1968 क ह वल ट - प कर ड क
  • य त र र णव ग रन थ क व म न क प रकरण म द गई मन त र, त त र और य त र क पर भ ष - म त रज ञ ब र ह मण प र व जलव य व द स तम भन शक त र त प दन चक र स तन त रम त
  • ट र ज स टर उपलब ध थ ज ह ल क उन व क य म ट य ब स कम व श वसन य थ ज नक जगह इसन ल थ इसम ब जल क कम खपत क ल भ म ज द थ पहल ट र ज स टर य क त
  • भ रत य जनगणन ह द क व य पक व व धत क र प म ह द क व य पक स भव पर भ ष ल त ह 2011 क जनगणन क अन स र, 57.1 भ रत य आब द ह द क ज नत ह
  • व द य त ध र क स थ इतन अध क नह बदलत व द य त पर पथ म ड य ड, ट र ज स टर एसस आर ज स य क त य लग य ज सकत ह च म बक य पर पथ क ल ए, इनक
  • आत ह और ज अपन इ जन य म टर भ स वय उठ त ह इस शब द क अध क श पर भ ष ओ क अन स र म टरव हन म ख य र प स सड क पर चल न क ल ए ह एक स आठ ल ग
                                     
  • स प प कल क र ल ग क नजर म आन लग 1960 क दशक म सस त और छ ट ट र ज स टर र ड य क आन स य व ओ क घर क ब हर भ प प म य ज क स नन क म क म लन
  • ज ड न क ल य द - ज ड अर थ त, च र स र ह त ह उद हरण क ल य ट र न ज स टर एक द व - प र ट न टवर क ह यद यप इसम च र नह त न ह स र ह त ह
  • स स क त क अवध रण आम त र पर पश च म द न य क श स त र य पर भ ष स ज ड ह ई ह इस पर भ ष म पश च म स स क त स ह त य क, व ज ञ न क, र जन त क, कल त मक
  • उच च जट लत तक ह त ह स म न यत: एम ब ड ड स स टम शब द वल क क ई सट क पर भ ष नह द ज सकत क य क अध क श स स टम स म व स त रण अथव प र ग र म ग
  • प रत स पर ध म ल य पर नह ज सकत और अ त य त कम ऊर ज क आवश यकत ओ क स थ ट र ज स टर र ड य क आगमन क अर थ थ स ट क ल ए म ल तर क क ग यब ह न अ तत लगभग

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →