अपवाह

अपवाह या धरातलीय अपवाह जल की वह मात्रा है जो पृथ्वी की सतह पर गुरुत्वाकर्षण के प्रभाव में ढाल का अनुसरण करते हुए जलधाराओं, सरिताओं, नालों और नदियों के रूप में प्रवाहित होता है। किसी नदी बेसिन या किसी भी भौगोलिक क्षेत्र या इकाई का अपवाह उस इकाई में होने वाले वर्षण में से निस्यन्दन, वाष्पीकरण, मृदा-जल-धारण इत्यादि द्वारा होने वाले क्षय को घटा कर निकाला जा सकता है। सरिताओं और नदियों का अपवाह उनके बेसिन के आकापर भी निर्भर करता है।
अपवाह का मापन और इसके प्रतिरूपों का अध्ययन किसी भौगोलिक क्षेत्र के जल तन्त्र या जल चक्र को समझने के लिये अत्यंत आवश्यक है। इसी लिये जल संसाधनों के क्षेत्रीय अथवा वैश्विक अध्ययन में अपवाह का महत्त्वपूर्ण स्थान होता है।
बहता हुआ जल कई प्रकार के स्थलरूपों का निर्माण भी करता है जिन्हें जलीय स्थलरूप कहते हैं। इनमें प्रमुख हैं वी-आकार की घाटी, जलप्रपात, क्षिप्रिका, बाढ़ मैदान, विसर्प, डेल्टा इत्यादि।
निर्धारित जलमार्गों का अनुसरण करता हुआ बहता जल इनके जाल द्वारा जो तंत्र बनाता है उसे अपवाह तन्त्र कहते हैं। इस अपवाह तंत्र का ज्यामितीय विन्यास यह बताता है कि यह किस प्रकार का अपवाह तंत्र है या इसका अपवाह प्रतिरूप क्या है। किसी क्षेत्र का अपवाह तंत्र उस क्षेत्र की स्थलाकृति और जलवायु पर निर्भर होता है

अपव ह तन त र य प रव ह प रण ल drainage system क स नद तथ उसक सह यक ध र ओ द व र न र म त जल प रव ह क व श ष व यवस थ ह यह एक तरह क ज लतन त र
क ग और जम ब ज क छ ड कर अध क श नद य न व चल न य ग य नह ह यह जल अपव ह प रण ल अफ र क क उत तर भ ग म व स त त ह न ल इस क ष त र क प रम ख
ड र फ ट व ल स ट कहल त ह व द य त ध र क म न अपव ह व ग क सम न प त ह त ह प रत र ध पद र थ म अपव ह व ग, आर प त व ह य व द य त क ष त र क सम न प त
अपव ह नल ड र फ ट ट य ब एक य क त ह ज र ख क त वरक म प रय क त ह त ह इसम एक ख खल ब लन क र नल ह त ह ज सस र ड य आव त त क व ल ट ज ज ड
द र म क त क प रत र प अथव व क ष क र अपव ह प रत र प अ ग र ज Dendritic drainage pattern एक तरह क अपव ह प रत र प ह ज सम नद क म ख य ध र म उसक
ह नद य क द श कह ज न व ल भ रत म म ख यत च र नद प रण ल य ह अपव ह त त र ह उत तर भ रत म स ध मध य भ रत म ग ग उत तर - प र व भ रत
द र म क त क प रत र प अथव व क ष क र अपव ह प रत र प अ ग र ज Dendritic drainage pattern एक तरह क अपव ह प रत र प ह ज सम नद क म ख य ध र म उसक
ल ए हव म अपव ह करत ह ई ग द ड लत ह और टप ख न क ब द यह ग द बल ल ब ज क प छल स ट प क ओर ऑफ स ट प क ओर ज लग हव म अपव ह और घ म व आक रमण
क ष ण नद स ज म लत ह इसक प रम ख सह यक नद य स न और न र ह भ म अपव ह क ष त र पश च म घ ट पश च म ब ल घ ट पर वतश र ण उत तर और मह द व पर वतश र ण

अभ क न द र प रत र प अपव ह तन त र क वह र प ह ज सम नद य च र तरफ स प रव ह त ह कर क न द र क ओर ज त ह यह अपक न द र य अपव ह प रत र प क ठ क व पर त
नद - ग द वर प चम प द पर य जन कर न टक म ग द वर नद म ह य ईस यह म न ज सकत ह क यह पर य जन ग द वर नद ब स न य अपव ह त त र म स थ त ह
प र ववर त प रत र प नद तथ उसक सह यक ध र ओ द व र न र म त जल प रव ह क व श ष व यवस थ य अपव ह त त र ह
अन श च त प रत र प एक प रम ख अपव ह तन त र ह ज नद तथ उसक सह यक ध र ओ द व र न र म त जल प रव ह क व श ष व यवस थ ह
प र णर प त प रत र प अपव ह तन त र क एक र प ह
वलय क र प रत र प एक प रम ख अपव ह तन त र ह ज नद तथ उसक सह यक ध र ओ द व र न र म त जल प रव ह क व श ष व यवस थ ह
सम न तर प रत र प एक प रम ख अपव ह तन त र ह ज नद तथ उसक सह यक ध र ओ द व र न र म त जल प रव ह क व श ष व यवस थ ह
भ म गत प रत र प एक प रम ख अपव ह तन त र ह ज नद तथ उसक सह यक ध र ओ द व र न र म त जल प रव ह क व श ष व यवस थ ह
ह स थ ह इसम मन ष य क क र य ओ द व र क फ प रद षण भ ह आ ह अपव ह अपव ह तन त र भ रत क नद य भ ग ल XII, pp. पर य वरण, प र ण और प रद षण pp
अपक न द र य प रत र प अपव ह तन त र क वह र प ह ज सम नद य एक स थ न स न कलकर च र ओर प रस र त ह त ह
इट व ज ल क स म पर श म ल प च नद य क स गम सम प त ह त ह च बल क अपव ह क ष त र म च त ड, क ट ब द सव ई म ध प र, कर ल ध लप र इत य द इल क
आयत क र प रत र प अपव ह तन त र क वह प रक र ह ज सम सह यक नद य अपन म ख य नद स समक ण पर म लत ह

क टक य य ह कन म प रत र प अपव ह तन त र क वह र प ह ज सम म ख य नद क ऊपर भ ग म ऐस सह यक जलध र ए म लत ह ज नक प रव ह क द श म ख य नद क व पर त
स न गल नद अटल ट क मह स गर य जल अपव ह प रण ल क प रम ख नद ह
पश च म त तर भ ग क ब जर भ म म व ल प त ह ज त ह ल न एक म सम नद ह और इसक अपव ह म ख यत: अर वल श र ण क दक ष ण - पश च म ढल न स ह त ह म ठड ल लड
लग य त ब बत म व भ न न पर य जन ओ क प र करन क ल ए उन ह न इन नद य क अपव ह क ष त र क उपग रह क मदद स व स त त अध ययन प र करन क भ द व क य
ज ल द र प रत र प अपव ह तन त र क वह र प ह ज सक व क स स रचन म ढ ल क अन र प व कस त प रध न अन वर त नद तथ उसक सह यक नद य क प रव ह क ल द व र
क ब धगय क सम प द अन य नद य यथ म हन एव ल ल जन नद क स थ म लकर अपव ह क ष त र ट ल म फ लत ह ई ग ग म व ल न ह ज त ह ब ह र म फल ग नद
भ ग म स थ त ह अत यह जल अपव ह प रण ल मह द व प क पश च म भ ग म स थ त ह क ग न इजर, स न गल, क न न और ओर ज इस अपव ह प रण ल क प रम ख नद य ह
क र ग ग ल श यर अपव ह स य क त ह त ह ज सम म ट ट र क आट ह त ह म म र ब क ओर न च द खन पर, म र नद क हल क र ग क अपव ह क स थ प न क र गत
मह र ष ट र र ज य म प रव श करत ह इस नद क क ल लम ब ई 525 क ल म टर तथ अपव ह क ष त र 24087 वर ग क ल म टर ह अ त म यह नद व नग ग नद म म ल ज त