आभूषण

कुंदनकारी

सोने के आभूषण बनाने की कला का देश कहते हैं.जयपुर शहर सोने के आभूषणों के लिए प्रसिद्ध है ।
सोने के शब्द का अर्थ है - सबसे सही सोने के. यह परिष्कृत किया जाता है, पिघला हुआ सोने का इस्तेमाल किया जाता है. सोने के बीकानेरी आभूषण या जयपुरी आभूषण भी कहते हैं । इसके पिछले भाग में विविध रंगों और डिजाइनों के इनेमल बाहर किया जाता है, जबकि सामने के भाग पर सोने के लिए शुरू किया हो ।

चूड़ामणि

चूड़ामणि स्त्रियों के पहनने का एक आभूषण होता है मंथन से चौदह रत्न निकले, उसी समय सागर से दो देवियों का जन्म हुआ – १– रत्नाकर नन्दिनी २– महालक्ष्मी रत्नाकर नन...

प्रकारानुसार आभूषण

प यल ज स प यज ब भ कहत ह टखन पर पहनन व ल आभ षण ह भ रत म लड क य और मह ल ओ द व र सद य स प यल और ब छ य पहन ज त ह प यल अक सर च द

रत्न

ह न क क रण भ प रभ व त नह ह त रत न क हम म ख यत त न वर ग म व भ ज त कर सकत ह - प र ण ज रत न - प र ण ज रत न व ह ज क ज व - जन त ओ क शर र ख ल ड ह ज न क भ रत रत न प...

मनका

गुरिया या मनका ऐसे बंधे हुए दानों को कहते हैं जिन्हें पिरोकर माला बनाई जाती है या जिनसे बनी झालरें सजावट के लिए वस्त्रों में लगाई जाती हैं। गुरिया शब्द का मू...