ⓘ जन्‍मेजय. महाभारत के बाद हस्तिनापुर के महाराज परीक्षित के पुत्र जन्मेजय हुए | इन्होने नागयज्ञ किया तथा तक्षक सर्प को मारने हेतु यह यज्ञ किया जिसमे पृथ्वी के सार ..

                                     

ⓘ जन्‍मेजय

महाभारत के बाद हस्तिनापुर के महाराज परीक्षित के पुत्र जन्मेजय हुए | इन्होने नागयज्ञ किया तथा तक्षक सर्प को मारने हेतु यह यज्ञ किया जिसमे पृथ्वी के सारे नाग मरे गए। इनके वंशज आगे चलके तोमर कहलाये | सम्राट क्षेमक इनके वंशज थे जो अंतिम सम्राट हुए तथा उनके वंशज रजा तुंग हुए जो दक्षिण भारत में कर्नाटक में पुनः राज्य स्थापित करने में सक्षम हुए।

                                     
  • जन म जय स ईब ब जन म : एक छ उ कल क र और ग र ह वह मय रभ ज छ उ कल म न प ण ह और प छल स ल स इसक श क ष द न करत आ रह ह इस कल म
  • जन म जय स ह, भ रत क उत तर प रद श क स लहव व ध नसभ सभ म व ध यक रह 2012 उत तर प रद श व ध न सभ च न व म इन ह न उत तर प रद श क द वर य व ध न
  • जन म जय य जन म द एक ज ट ग त र ह इस ग त र क ल ग प नडव क ल क व शज ह इनक र जगदद हसत न प र रह ह ड प म र म 2010 र जस थ न क ज ट क इत ह स
  • म त य ह गई थ और जन म जय न न ग ओ क हर कर अपन प त क म त य क बदल ल य थ सर पश स त र क पर पर ओ क प लन करत ह ए जन म जय न ज स स थ न पर स प
  • य द ध क ब द स थल ध वस त ह गय थ पर क ष त क प त र जन म जय न इसक ज र ण द ध र कर कर व णप र जन म जय न म रख थ ज अपभ र श र प म बन प र ज नई ह गय
  • छऊ न त य श ल प त य र क य ह म इनक द ह त क ब द इनक भत ज जन म जय स ईब ब और उनक द न प त र र ज श और र क श इस कल क आग ल ज रह ह
  • म हम मदप र स थ त अव न क प र क फ प रस द ध स थ न ह ऐस म न ज त ह क र ज जन म जय न एक ब र प थ व पर ज तन भ स प ह उन ह म रन क ल ए यह एक यज ञ क
  • पर क ष त ह आ, ज सक म त य तक षक सर प क क टन स ह ई पर क ष त प त र जन म जय न अपन छ: भ इय क स थ प रत श ध म सर प ज त क व न श क ल य सर प ष ठ
  • उस स थ न पर छ ड न पड ग र म ण ल ग बड च व स इस ब त क कहत ह क जन म जय न गयज ञ यह स पन न ह आ थ व श ख म यह पर एक व श ल म ल भ लगत ह
  • सम र ट क स च भ द ह ई ह ज नक अभ ष क व द क न यम स ह आ थ य ह 1 जन म जय प र क ष त, त र क वश य द व र अभ ष क त, 2 श र य त म नव, च यवन भ र गव द व र
  • आय क त भ ग और म क षद त भ गवत प र ण स वय ग र ज न जन म जय क स न य आप ज नत ह - जन म जय क प त र ज पर क ष त क तक षक सर प न डस ल य थ और र ज
                                     
  • हर श नवल द ल ल ड हर श अर ड द ल ल ड रम द ल ल ड प र म जन म जय द ल ल प र जवर मल प रख द ल ल प कज चत र व द मध य प रद श प र
  • च तन इत ह स क भ त त पर स स थ त ह स क दग प त च द रग प त ध र वस व म न जन म जय क न ग यज ञ र ज यश र क मन एक घ ट जयश कर प रस द न अपन द र क प रस
  • न र म त म न ज त ह जनश र त ह क इसक न र म ण प डव य उनक व शज जन म जय द व र करव य गय थ स थ ह यह भ प रचल त ह क म द र क ज र ण द ध र जगद ग र
  • म हम मदप र स थ त अव न क प र क फ प रस द ध स थ न ह ऐस म न ज त ह क र ज जन म जय न एक ब र प थ व पर ज तन भ स प ह उन ह म रन क ल ए यह एक यज ञ क
  • भ रतवर ष क उत तर भ ग पर न गव श क र ज व स क क श सन थ उसक शत र र ज जन म जय न उस म ट न क प रण ल रख थ द न र ज ओ क ब च य ध द श र ह आ, ल क न
  • झरन आ स लहर क म यन प र म पथ क न टक स क दग प त च द रग प त ध र वस व म न जन म जय क न ग यज ञ र ज यश र क मन एक घ ट कह न स ग रह छ य प रत ध वन आक शद प
  • मह श वर म ह ष मत उसक र जध न थ मह भ रत क पश च त सम र ट पर क ष त और जन म जय क र ज यक ल तक धरमप र क व भव अपन पर क ष ठ पर पह च च क थ ल ख और
  • ह स वत र कथन द व दश स क ध - ब द ध वत र, कल क - अवत र - कथन, र ज पर क ष त तथ जन म जय कथ भगवत अवत र क वर णन आद इस प रक र यत र - तत र ब खर इस श र मद भ गवत
  • ग र ज क म र जन म क द - ग र ज क म र म थ र जन म जन म क फ र - र म न र यण जन म जय बच - श वस गर म श र जब ज ल फ पर र सर च ह ग - ड प र ण स ह जब ज ल फ
  • ह त र ज हठ स ह न यद आर प र क स ग र म क य न ह त पर क ष त - जन म जय - अश वम घ - धर मद व - मनज त च त ररथ - द पप ल - उग रस न - स रस न - भ वनपत
  • अभ मन य ह ए अभ मन य और उत तर क प त र र ज पर क ष त ह ए पर क ष त - जन म जय - अश वम घ - धर मद व - मनज त च त ररथ - द पप ल - उग रस न - स रस न - भ वनपत

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →