ⓘ मुल्कराज आनंद भारत में अंग्रेज़ी साहित्य के क्षेत्र के प्रख्यात लेखक थे। मुल्कराज आनंद का जन्म १२ दिसम्बर १९०५ को पेशावर में हुआ था जो अब पाकिस्तान में है। उन्ह ..

                                     

ⓘ मुल्कराज आनंद

मुल्कराज आनंद भारत में अंग्रेज़ी साहित्य के क्षेत्र के प्रख्यात लेखक थे। मुल्कराज आनंद का जन्म १२ दिसम्बर १९०५ को पेशावर में हुआ था जो अब पाकिस्तान में है। उन्होंने यूनिवर्सिटी ऑफ़ लंदन तथा केंब्रिज विश्वविद्यालय में पढ़ाई कर पीएचडी की उपाधि हासिल की. साहित्य जगत में उनका नाम हुआ उनके उपन्यास अनटचेबल्स से जिसमें उन्होंने भारत में अछूत समस्या का बेबाक चित्रण किया। उनके महत्वपूर्ण उपन्यास हैं,

  • द सोर्ड एंड द सिकल
  • द विलेज
  • टू लीव्स एंड अ बड
  • अक्रॉस द ब्लैक वाटर्स
  • कुली

भारत में रचा गया उनका प्रमुख उपन्यास था द प्राइवेट लाइफ़ ऑफ़ ऐन इंडियन प्रिंस. ९९ वर्ष की आयु में सन २००४ में उनका निधन हुआ।

                                     
  • म र न ग फ स अ ग र ज भ ष क व ख य त स ह त यक र म ल कर ज आन द द व र रच त एक उपन य स ह ज सक ल य उन ह सन 1971 म अ ग र ज भ ष क ल ए स ह त य
  • सत बर 1973 उर द क एक प रस द ध ल खक और म र क सव द च तक थ इन ह न म ल कर ज आन द और ज य त र मय घ ष क स थ म लकर म प र ग र स व र इटर स एस स एशन
  • क भ रत य ल खक म त न सबस मह न उपन य सक र म ग न ज त ह म ल कर ज आन द तथ र ज र व क स थ उनक न म भ रत य अ ग र ज ल खन क आर भ क समय म
  • म रन क धमक द त ह ज सस डरकर आन द उनक ब त म न ल त ह मजद र इसस ग स स कर आन द पर ज नल व हमल कर द त ह आन द घर छ ड कर भ ग ज त ह मजद र, व जय
  • क ल लकर, हर क ष ण म हत ब, न स म इज क ल, ड स न त क म र च टर ज ड म ल कर ज आन द स र द र म ह त द व श द स, स य र मशरण ग प त, र मध र स ह द नकर, उदयश कर
  • स स क त क क र य म त र लय, भ रत सरक र आर.क य ज ञ क : द इ ड यन थ एटर म ल कर ज आन द : द इ ड यन थ एटर एल रड इस न क ल : द ड वलपम ट ऑव द थ एटर र च र ड
  • ग र ग च च चकल लस क क रक ट चक कर - द व द र भ रद व ज च च न हर - म ल कर ज आन द च णक य - भगवत चरण च णक य क जय कथ - व ष ण चन द र शर म च णक य क
  • और कल पत र क म र ग क स प दक और ल दन ब ल म सबर सम ह क सहय ग ड म ल कर ज आन द न क दर क प रत भ क म न यत द एक स क य प रदर शन म उनक क म क
  • क स ल ख - ड भ ग रथ म श र अच छ आदम - फण श वर न थ र ण अछ त - म ल कर ज आन द अछ त म भ र म ह - व यथ त ह दय अछ त फ ल और अन य कह न य - अज ञ य
  • सर वप रथम दस त व ज ख ड क अ तर गत ज र ज बर न र ड श र मव क ष ब न प र म ल कर ज आन द एव बलर ज स हन क आल ख द य गय ह इसक ब द व श व स न म क अ तर गत
                                     
  • द ल ल स व पस द स व र ड ए ड द स क म ल क र ज आन द र जप ल ए ड स स द ल ल स ग व, म ल ल खक म ल कर ज आन द र जप ल ए ड स स द ल ल स ड र यन ग र क तस व र
  • असम भ रत म ह र क म र स न ख ल पश च म ब ग ल भ रत म ल कर ज आन द स ह त य एव श क ष मह र ष ट र भ रत म ल कर ज च पड प रश सक य स व उत तर ख ड भ रत र मन थन क ष णन
  • न र यण द ट क - ब ल कव व र ग द नम बर - ब द ध द व द पत एक कल - म ल कर ज आनन द द बहन - भगवत प रस द द ब घ जम न - श त श भ रद व ज द र ह पर और
  • क र त लक ष मण श स त र ज श अन नद श कर र य म ल कर ज आन द व न यक क ष ण ग क क तकष श वश कर प ळ ळ अम तल ल
  • र ग सपन - र म क म र भ रमर स त श खर - अख तर म ह द न स त सम द र प र - म ल कर ज आनन द स त सव ल - अम त प र तम स थ - ममत क ल य स दर आपक - दय प रक श स न ह
  • असम भ रत म ह र क म र स न ख ल पश च म ब ग ल भ रत म ल कर ज आन द स ह त य एव श क ष मह र ष ट र भ रत म ल कर ज च पड प रश सक य स व उत तर ख ड भ रत र मन थन क ष णन
  • आर ट स ट इन ल इफ रव न द रन थ क अध ययन प रस क र व तरण न ह म ल कर ज आन द म र न ग फ स उपन य स प रस क र व तरण न ह प रस क र व तरण न ह

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →