ⓘ संबद्ध विपणन एक ऐसा विपणन तरीका है जिसमें व्यापार द्वारा, एक या एकाधिक संबद्ध सहयोगियों के विपणन प्रयासों के परिणाम स्वरुप आये आंगतुक या ग्राहक हेतु उसे पुरस्कृ ..

                                     

ⓘ संबद्ध विपणन

संबद्ध विपणन एक ऐसा विपणन तरीका है जिसमें व्यापार द्वारा, एक या एकाधिक संबद्ध सहयोगियों के विपणन प्रयासों के परिणाम स्वरुप आये आंगतुक या ग्राहक हेतु उसे पुरस्कृत किया जाता है। इसके उदाहरण में पुरस्कार स्थान या क्षेत्र शामिल है, जहाँ किसी प्रस्ताव की समाप्ति पर या क्षेत्र में अन्य व्यक्तियों को भेजने हेतु प्रयोक्ताओं को नकद या उपहार द्वारा पुरस्कृत किया जाता है। इस उद्योग में चार प्रमुख खिलाड़ी होते हैं: व्यापारी, नेटवर्क, प्रकाशक, एवं ग्राहक. संबद्ध प्रबंधन एजेंसियां, सुपर संबद्ध एवं विशेष तृतीय पक्ष वेंडर सहित माध्यमिक खिलाड़ियों को प्रमाणित करने के लिए बाज़ार ने जटिलता में विकास किया है।

संबद्ध विपणन प्रायः कुछ हद तक अन्य इंटरनेट विपणन तरीकों को ढ़ांकता या आच्छादित करता है क्योंकि संबद्ध प्रायः नियमित विपणन तरीकों का प्रयोग करते हैं। इन तरीकों में आर्गेनिक सर्च इंजन ऑप्टीमाइजेशन, पेड सर्च इंजन मार्केटिंग, इ-मेल मार्केटिंग और कुछ में डिस्प्ले विज्ञापन शामिल हैं। दूसरी ओर, संबद्ध कई बार कम रूढ़िगत तकनीकों का प्रयोग करते हैं जैसे एक सहभागी द्वारा दी गयी सेवाओं या उत्पादों की समीक्षा का प्रकाशन.

संबद्ध विपणन - एक वेबसाइट का प्रयोग करते हुए अन्य की ओर यातायात मोड़ना - ऑनलाइन विपणन का एक रूप है, जिस पर विज्ञापन दाताओं द्वारा अक्सर ध्यान नहीं दिया जाता. जबकि सर्च इंजन, ई-मेल एवं वेबसाइट सिंडीकेशन ऑन लाइन रीटेलरों का ध्यान अधिक आकृष्ट करते हैं, संबद्ध विपणन तुलनात्मक रूप से कम ध्यान आकृष्ट करता है। लेकिन फिर भी, ई-रीटेलरों की विपणन योजनाओं में संबद्ध की महत्त्वपूर्ण भूमिका होती है।

                                     

1.1. इतिहास मूल

निर्दिष्ट व्यवसायों के लिए आय सहभाजन-भुगतान कमीशन का सिद्धांत संबद्ध विपणन तथा इंटरनेट से पहले का है। मुख्यधारा के ई-कॉमर्स में आय सहभाजन के सिद्धांतों का समावेश नवंबर 1994 में वर्ल्ड वाइड वेब के उद्भव के लगभग चार वर्ष बाद हुआ।

जब दर्शक सह प्रतिनिधि की वेबसाइट के माध्यम से अमेज़न की वेबसाइट पर क्लिक करके पुस्तक खरीदता है, तो सह प्रतिनिधि को उसका कमीशन मिल जाता है। अमेज़न संबद्ध प्रोग्राम प्रस्तावित करने वाला पहला व्यापारी नहीं था लेकिन इसका प्रोग्राम सर्वप्रथम सुपरिचित हुआ एवं बाद के प्रोग्रामों हेतु एक मॉडल के रूप में तैयार हुआ।

फरवरी 2000 में, अमेज़न ने यह घोषणा की कि उसे संबद्ध प्रोग्राम के प्रत्येक आवश्यक अवयवों पर पेटेंट प्राप्त हुआ है। पेटेंट का आवेदन जून 1997 में किया गया था जो अन्य ज़्यादातर संबद्ध प्रोग्रामों से पहले था, लेकिन इसके पूर्व पी सी फ्लावर्स एण्ड Gifts.com अक्टूबर 1994, AutoWeb.com अक्टूबर 1995, Kbkids.com/BrainPlay.com जनवरी 1996, ई पेज अप्रैल 1996 तक कई अन्य आवेदन थे।

                                     

1.2. इतिहास ऐतिहासिक विकास

अपने उद्भव से अब तक संबद्ध विपणन ने तेजी से विकास किया है। ई-कामर्स वेबसाइटें, जिन्हें इंटरनेट के शुरुआती दिनों में एक विपणन खिलौने की तरह देखा गया, अब संपूर्ण व्यापार योजना का अभिन्न अंग बन गई हैं एवं कुछ मामलों में ये मौजूद ऑफ लाइन व्यापार से भी आगे निकल कर बड़े व्यापार में तब्दील हो गयी हैं। एक रिपोर्ट के अनुसार अकेले यूनाइटेड किंगडम में वर्ष 2006 में संबद्ध नेटवर्क के द्वारा कुल विक्रय राशि £ 2.16 बिलियन अर्जित की गयी। वर्ष 2005 में विक्रय में आंकलन £ 1.35 बिलियन था। मार्केटिंग शेरपा की अनुसंधान टीम ने यह आंकलन किया कि वर्ष 2006 में विश्वभर में संबद्धों ने रीटेल, व्यक्तिगत वित्त, खेल एवं जुआ, यात्रा, दूरसंचार, शिक्षा, प्रकाशन, संदर्भित विज्ञापन प्रोग्रामों से पृथक लीड उत्पादन के रूपों आदि विभिन्न स्त्रोतों से दान एवं कमीशन के जरिये 6.5 बिलियन अमेरिकी डॉलर की आय अर्जित की.

वर्तमान में वयस्क, जुआ बाजी, एवं रीटेल उद्योग संबद्ध विपणन के सर्वाधिक सक्रिय क्षेत्र हैं। सर्वाधिक वृद्धि प्राप्त करने हेतु संभावित तीन क्षेत्रों में मोबाइल फोन, वित्त एवं यात्रा क्षेत्र शामिल हैं। इन क्षेत्रों के बाद मनोरंजन विशेषकर खेल एवं इंटरनेट संबंधित सेवायें विशेषकर ब्रॉडबैंड क्षेत्र आते हैं। इसके अलावा कई संबद्ध समाधान प्रदानकर्ताओं ऐफीलिऐट सॉल्युशन प्रोवाइडर को व्यापार-से-व्यापार विपणकों एवं विज्ञापन दाताओं से संबद्ध विपणन का प्रयोग करते हुये आय में बढ़ोत्तरी की आशा है।

                                     

1.3. इतिहास वेब 2.0

वेब 2.0 सिद्धांतों पर आधारित वेबसाइटें एवं सेवायें - उदाहरणतः ब्लागिंग एवं इंटरैक्टिव ऑनलाइन समुदायों का संबद्ध विपणन दुनिया पर भी असर पड़ा है। नये मीडिया ने व्यापारियों को उनके संबद्धों के नजदीक आने की एवं उनके मध्य संप्रेषण में सुधार की सुविधा प्रदान की है।

                                     

2.1. वेतन पद्धति प्रमुख क्षतिपूर्ति तरीके

आज अस्सी प्रतिशत संबद्ध प्रोग्राम आय सहभाजन या लागत प्रति विक्रय सीपीएस CPS) का प्रयोग क्षतिपूर्ति तरीके के रूप में करते हैं, उन्नीस प्रतिशत लागत प्रति कार्य सीपीए CPA) एवं शेष अन्य प्रोग्राम अन्य तरीकों जैसे कि लागत प्रति क्लिक सीपीसी CPC) या लागत प्रति माइले mille सीपीएम CPM) का प्रयोग करते हैं।

                                     

2.2. वेतन पद्धति कम प्रचलित क्षतिपूर्ति तरीके

अधिक परिपक्व बाज़ारों में, एक प्रतिशत से कम परंपरागत संबद्ध विपणन प्रोग्राम वर्तमान में लागत प्रति क्लिक सीपीसी CPC) एवं लागत प्रति माइले mille सीपीएम CPM) का प्रयोग करते हैं। हालांकि, इन क्षतिपूर्ति तरीकों का डिस्प्ले विज्ञापन एवं भुगतान खोज में बड़ी मात्रा में प्रयोग हो रहा है।

लागत प्रति माइले mille हेतु केवल यह आवश्यक है कि प्रकाशक अपनी वेबसाइट पर विज्ञापन उपलब्ध कराये एवं इसे आगंतुकों हेतु प्रदर्शित करे ताकि कमीशन प्राप्त हो सके. लागत प्रति क्लिक में एक प्रकाशक के लिए मुनाफा कमाने की रूपान्तर प्रक्रिया में एक अतिरिक्त कदम की आवश्यकता होती है: एक आगंतुक को केवल एक विज्ञापन के प्रति जागरुक बनाने की ही आवश्यकता नहीं है वरन वह प्रकाशक की वेबसाइट पर भ्रमण हेतु विज्ञापन पर क्लिक भी करना ज़रूरी है।

संबद्ध विपणन के प्रारंभिक दिनों में लागत प्रति क्लिक सामान्यतः अधिक प्रचलित था, लेकिन समय के साथ इसका प्रयोग कम होता गया क्योंकि इसमें धोखाधड़ी पूर्ण क्लिक मामले दृष्टिगोचर हुये जैसे कि वर्तमान में आधुनिक सर्च इंजन में क्लिक धोखाधड़ी मामले दिखाई दे रहे हैं। संदर्भित विज्ञापन प्रोग्रामों को लागत प्रति क्लिक के घटते प्रयोग के कारण सांख्यिकी में शामिल नहीं किया गया है, क्योंकि यह अनिश्चित है कि संदर्भित विज्ञापन को संबद्ध विपणन माना जा सकता है।

यद्यपि परिपक्व ई-कॉमर्स एवं ऑनलाइन विज्ञापन बाज़ारों में ये मॉडल कम हो गये हैं, लेकिन ये कुछ नवजात उद्योगों में अभी भी प्रचलित हैं। चीन एक उदाहरण है, जहां संबद्ध विपणन पश्चिम के इसी मॉडल से मेल नहीं खाता. कई संबद्धों को "लागत प्रति दिन" की दर से भुगतान हो रहा है तथा कुछ नेटवर्क लागत प्रति क्लिक या सीपीएम CPM प्रदान कर रहे हैं।

                                     

2.3. वेतन पद्धति कार्य-निष्पादन विपणन

लागत प्रति माइले mille/ क्लिक के मामले में, श्रोता सदस्य होने के कारण प्रकाशक किसी आगंतुक के बारे में फ्रिकमंद नहीं रहता जिसे कि विज्ञापनदाता आकर्षित करने का प्रयास करता है तथा रूपांतरित करने में सफल होता है, क्योंकि इस समय तक प्रकाशक को अपना कमीशन प्राप्त हो चुका होता है। इससे विज्ञापनदाता को अधिक तथा लागत प्रति माइले mille के मामले में पूर्ण जोखिम एवं नुक्सान उठाना पड़ता है यदि आगंतुक रूपांतरित नहीं किया जा सके.

लागत प्रति कार्य/ विक्रय तरीकों में संबद्ध को कमीशन प्राप्ति हेतु विज्ञापनदाता की वेबसाइट पर आगंतुक को भ्रमण के अतिरिक्त भी कार्य करना होता है। विज्ञापनदाता को सर्वप्रथम आगंतुक को रूपांतरित करना होगा. यह संबद्ध के सर्वाधिक हित में है कि वह विज्ञापनदाता तक सबसे नज़दीकी रूप से लक्षित यातायात को भेजे ताकि रूपांतरण की संभावना में वृद्धि हो सके. इसमें संबद्ध एवं विज्ञापनदाता के मध्य जोखिम और नुक्सान का समान वितरण होता है।

संबद्ध विपणन को "निष्पादन विपणन भी कहा जाता है, विशेषकर विक्रय कार्मिकों को क्षतिपूर्ति प्रदान करने के संबंध में. इन कार्मिकों को उनके प्रत्येक विक्रय हेतु कमीशन का भुगतान किया जाता है एवं कभी-कभी उन्हें लक्ष्य की पूर्ति कर लेने पर निष्पादन प्रोत्साहन भी प्रदान किया जाता है। संबद्धों को विज्ञापनदाता द्वारा उनके उत्पाद और सेवाओं के प्रोत्साहन हेतु रोज़गार प्रदान नहीं किया जाता, लेकिन संबद्ध विपणन में लागू क्षतिपूर्ति मॉडल विज्ञापनदाता के आंतरिक विक्रय विभाग के व्यक्तियों के प्रयोग से काफी समान है।

यह कहावत कि "संबद्ध व्यक्ति आपके व्यापार हेतु विस्तारित विक्रय शक्ति हैं", जिसे संबद्ध विपणन की व्याख्या हेतु प्रायः प्रयोग किया जाता है, पूर्णतः सटीक नहीं है। इन दोनों के मध्य प्राथमिक अंतर यह है कि विज्ञापनदाता की वेबसाइट पर किसी भी संभावित ग्राहक के निर्देशित होने पर उसकी रूपांतरण प्रक्रिया पर संबद्ध विपणक बहुत कम प्रभाव डालता है। विज्ञापनदाता की विक्रय टीम का, हालांकि, संभावित ग्राहक पर तब तक नियंत्रण एवं प्रभाव होता है, जब तक कि वह ठेके पर हस्ताक्षर या क्रय पूर्ण न कर ले.

                                     

3. बहुचरण मल्टि टियर प्रोग्राम

कुछ विज्ञापनदाता मल्टि टियर प्रोग्राम प्रस्तावित करते हैं जो कि साइन-अप एवं उप-पार्टनरों के पदानुक्रमानुसार संदर्भित नेटवर्क में कमीशन का वितरण करता है। व्यावहारिक अर्थों में, प्रकाशक "ए" एक विज्ञापनदाता के प्रोग्राम में साइन-अप करता है एवं संदर्भित आगंतुक द्वारा संचालित सहमत गतिविधि हेतु पुरस्कृत होता है। यदि प्रकाशक "ए" अपने साइन-अप कोड का प्रयोग करते हुए उसी प्रोग्राम में प्रकाशक "बी" और "सी" को आकर्षित करता है, तो प्रकाशक "बी" एवं "सी" की भविष्य की समस्त गतिविधियाँ प्रकाशक "ए" को अतिरिक्त कमीशन प्रदान करेंगी.

बहुत कम संबद्ध प्रोग्रामों में द्वि-टियर प्रोग्राम अस्तित्व में होते हैं, ज़्यादातर एक-टियर हैं। द्वि-टियर से परे संदर्भित प्रोग्राम मल्टी लेवल बहुस्तरीय विपणन एमएलएम MLM) या नेटवर्क विपणन से मिलते जुलते हैं परंतु इनमें अंतर है। मल्टी लेवल विपणन एमएलएम MLM) या नेटवर्क विपणन में कमीशन का भुगतान प्राप्त करने हेतु अधिक पात्रतायें/ आवश्यकतायें होती हैं। जबकि संबद्ध प्रोग्रामों में नहीं.

                                     

4.1. विज्ञापनदाता के परिपेक्ष्य से पक्ष एवं विपक्ष में तर्क

व्यापारी संबद्ध विपणन का समर्थन करते हैं क्योंकि अधिकतर मामलों में यह "निष्पादन हेतु भुगतान" आदर्श का प्रयोग करते हैं, जिसका अर्थ यह होता है कि व्यापारी, जब तक परिणाम नहीं निकालते प्रारंभिक सेट- अप कीमत छोड़ कर विपणन खर्च नहीं करता है। कई व्यापार समूह सफलता का अधिकतम श्रेय इस विपणन तकनीक को देते है, जिसका मशहूर उदाहरण Amazon.com है। प्रदर्शन विज्ञापन कार्य के विपरीत, यद्यपि, संबद्ध विपणन आसानी से मापन योग्य नहीं है।

                                     

4.2. विज्ञापनदाता के परिपेक्ष्य से कार्यान्वयन विकल्प

कुछ व्यापारी लोकप्रिय सॉफ्टवेयर का प्रयोग करते हुए स्वयं ही जैसे कि इन-हाउस संबद्ध प्रोग्राम संचालित करते हैं जबकि अन्य संबद्धों द्वारा संदर्भित यातायात अथवा विक्रय को ट्रैक करने के लिये बिचौलियों द्वारा प्रदान की गई तीसरे पक्ष की सेवाओं का प्रयोग करते हैं आउट सोर्स प्रोग्राम प्रबंधन देखें. व्यापारी दो विभिन्न प्रकार के संबद्ध प्रबंधन समाधानों में से चुनाव कर सकते हैं: स्टेन्ड एलोन सॉफ्टवेयर अथवा होस्टेड सेवाएं, जिसे मुख्य रूप से संबद्ध नेटवर्क कहते हैं। संबद्धों अथवा प्रकाशकों को भुगतान या तो व्यापारी की ओर से नेटवर्क द्वारा सभी व्यापारियों को एक साथ किया जाता है, जहां पर कि प्रकाशक के संबंध हो तथा कमीशन कमाया हो, अथवा व्यापारी द्वारा स्वयं ही किया जाता है।

                                     

4.3. विज्ञापनदाता के परिपेक्ष्य से संबद्ध प्रबंधन तथा प्रोग्राम प्रबंधन आउटसोर्सिंग

सफल संबद्ध प्रोग्रामों को महत्त्वपूर्ण कार्य तथा अनुरक्षण की आवश्यकता होती है। सफल संबद्ध प्रोग्राम को बनाये रखना अधिक कठिन होता है, बजाए इसके कि जब यह प्रोग्राम बिल्कुल प्रारंभिक स्थिति में होते हैं। कुछ लंबवत बाज़ारों के अपवाद के अलावा, संबद्ध प्रोग्राम के लिये यह शायद ही होगा वह कमजोर प्रबंधन अथवा प्रबंधन के बिना जैसे कि ऑटो-ड्राइव पर्याप्त पूंजी का सृजन कर सके.

अनियन्त्रित संबद्ध प्रोग्रामों ने ऐसे कपटी संबद्धों को सहायता दी है तथा आज भी जारी रखे हुए है जो स्पामिंग, ट्रेड मार्क का उल्लंघन, झूठे विज्ञापन, "कूकीज़ कटिंग", टाइपो स्क्वेटिंग का प्रयोग तथा अन्य अनैतिक क्रियाएं करते हैं जो कि संबद्ध विपणन को नकारात्मक प्रतिष्ठा देते हैं।

इंटरनेट व्यापार की बढ़ती संख्या तथा ऑनलाइन व्यापार करने की नवीनतम प्रौद्योगिकी पर विश्वास करने वाले व्यक्तियों की बढ़ती हुई संख्या संबद्ध विपणन को और मज़बूत करने में सहायक होती है। समान गुणवत्ता तथा आकार से भरे व्यस्त बाज़ार में व्यापारी को लाभ कमाने एवं अलग से पहचाने जाने में कठिनाई होती है। इस वातावरण में, हालांकि, पहचाना जाना अधिक लाभप्रद हो सकता है।

हाल ही में, इंटरनेट विपणन उद्योग अधिक आधुनिक हो गया है। कुछ क्षेत्रों में ऑफ लाइन मीडिया की तरह ऑनलाइन मीडिया भी परिष्कृत हो गया है, जिसमें विज्ञापन विस्तृत रूप से व्यावसायिक तथा स्पर्धात्मक हैं। ऐसी कई महत्त्वपूर्ण आवश्यकताऐं है जिन्हें व्यापारियों को सफल होने के लिये पूरा करना ही चाहिये, तथा ये आवश्यकताऐं इन-हाउस पूरा करना व्यापारियों के लिए अत्यधिक बोझिल हो रहा है। बढ़ती संख्या में व्यापारी तुलनात्मक रूप से नयी आउटसोर्स प्रोग्राम प्रबंधन ओपीएम कंपनियों में वैकल्पिक विकल्पों को खोज रहे है जिन्हें प्रायः अनुभवी संबद्ध प्रबंधकों तथा नेटवर्क प्रोग्राम प्रबंधकों द्वारा स्थापित किया गया है। ओपीएम OPM कंपनियां सेवा के रूप में व्यापारियों के लिये संबद्ध प्रोग्राम प्रबंधन करती हैं, जिस तरह विज्ञापन कंपनियाँ ऑफ लाइन विपणन की तरह किसी ब्रान्ड तथा उत्पाद को प्रोत्साहन देती हैं।

                                     

4.4. विज्ञापनदाता के परिपेक्ष्य से संबद्ध वेब साइट के प्रकार

संबंध वेब साइटों को प्रायः व्यापारियों जैसे कि विज्ञापनदाता तथा संबद्ध नेटवर्कों द्वारा वर्गीकृत किया जाता है। वर्तमान में वर्गीकरण के लिये कोई उद्योगानुसार स्वीकृत मानक नहीं है। निम्नलिखित प्रकार की वेब साइट सामान्य जेनरिक होती है, लेकिन फिर भी संबद्ध व्यापारियों द्वारा साधारण रूप से समझी तथा प्रयोग की जाती हैं।

  • शॉपिंग निर्देशिकायें, जो व्यापारियों को कूपन, मूल्य तुलना या जल्द बदलने वाली सूचना के आधापर अन्य गुणों को उपलब्ध कराये बिना सूचीबद्ध करती है अतएव लगातार अपडेट की आवश्यकता होती है।
  • साइट पर उत्पादों के लिये संदर्भ-संवेदनशील, अत्यधिक प्रासंगिक विज्ञापनों के प्रदर्शन हेतु एडबार जैसे कि एडसेन्स का प्रयोग करते हुए वेबसाइटें.
  • ईमेल मार्केटिंग
  • ई-मेल सूची संबद्ध जैसे कि बड़े ऑप्ट-इन मेल सूचियों के स्वामी जो प्रमुख रूप से ई-मेल ड्रिप विपणन को नियुक्त करते हैं तथा न्यूज़लेटर सूची संबद्ध, जो प्रमुख रूप से अत्यधिक सामग्री युक्त होते हैं।
  • उत्पाद समीक्षा साइटों सहित कंटेन्ट तथा बेहतर बाज़ार वेबसाइटें.
  • लागत प्रति कार्य नेटवर्क जैसे कि टॉप-टीयर संबद्ध जो विज्ञापन दाताओं से प्रस्तावों को प्रभावित करते हैं जिनके साथ वे अपने स्वयं के संबद्धों के नेटवर्क से जुड़े हैं।
  • वेब लॉग्स तथा वेबसाइट सिंडिकेशन फीड्स
  • लॉयल्टी वेबसाइट, जो क्रय के लिये पॉइन्ट वापिसी, नकद वापिसी के द्वारा पुरस्कार प्रदान करने के लिये विशिष्ट रूप से वर्गीकृत हैं।
  • तुलनात्मक शॉपिंग वेबसाइट तथा निर्देशिकाऐं
  • व्यक्तिगत वेबसाइटें
  • सी आर एम साइटें, जो धर्मार्थ दान को प्रोत्साहित करती हैं।
  • पंजीकरण पथ अथवा सह-पंजीकरण संबद्ध जो अन्य व्यापारियों से उनकी अपनी वेबसाइटों पर पंजीकरण प्रक्रिया के दौरान प्रस्ताव सम्मिलित करते हैं।
  • संबद्ध खोज जो विज्ञापन दाता के ऑफर जैसे सर्च आर्बीट्रेज को प्रोत्साहित करने के लिये प्रति क्लिक भुगतान सर्च इंजनों का उपयोग करती है
  • कूपन तथा छूट वेबसाइटें, जो विक्रय प्रोत्साहन पर ध्यान केंद्रित करती है।
  • वास्तविक मुद्राः एक नवीन प्रकार का प्रकाशक जो गेम अथवा असली प्लेट फार्म में "वास्तविक मुद्रा" के हैन्ड-आउट के साथ विज्ञापनदाताओं का प्रस्ताव जोड़ने के लिये सामाजिक मीडिया का प्रयोग करता है।
                                     

4.5. विज्ञापनदाता के परिपेक्ष्य से प्रकाशक की नियुक्ति

संबद्ध नेटवर्क, जिसमें पहले से ही कई प्रकाशक होते हैं, में प्रकाशकों का बढ़ा समूह भी होता है। यह प्रकाशक संभाव्य रूप से नियुक्त किये गये हैं, तथा यह भी संभावना है कि नेटवर्क के प्रकाशक विज्ञापन दाताओं के द्वारा नियुक्ति के प्रयास की आवश्यकता के बिना स्वयं ही प्रोग्राम में आवेदन करें.

संबंधित वेबसाइट, जो विज्ञापन दाता के रूप में उसी लक्षित श्रोताओं को आकर्षित करती है, परंतु उसके साथ बगैर प्रतियोगिता के, संभाव्य संबद्ध पार्टनर होते हैं। वैन्डर्स अथवा वर्तमान ग्राहक भी चयनित हो सकते हैं, यदि यह करने से कुछ फायदा हो तथा किसी कानून तथा नियमों का उल्लंघन न होता हो.

प्रायः कोई भी वेब साइट एक संबद्ध प्रकाशक के रूप में चयनित की जा सकती है, यद्यपि इस बात की अधिक संभावना है कि अधिक व्यस्त वेबसाइटें उनके पक्ष में कम-जोखिम लागत प्रति माइले mille अथवा मध्यम-जोखिम लागत प्रति क्लिक सौदे में अत्यधिक-जोखिम लागत प्रति कार्य अथवा राजस्व हिस्से के सौदे की तुलना में रूचि रख सकती हैं।

                                     

5. संबद्ध प्रोग्रामों का स्थान पता लगाना

किसी लक्षित वेब साइट के लिये संबद्ध प्रोग्राम के स्थान का पता लगाने के लिये प्रमुख रूप से तीन मार्ग हैं:

  • लक्षित वेबसाइटें, स्वयं.
  • बड़े संबद्ध नेटवर्क, जो दर्जनों अथवा सैकड़ों विज्ञापन दाताओं को प्लेट फार्म उपलब्ध कराता है, - एवं
  • संबद्ध प्रोग्राम निर्देशिकाऐं

यदि उपर्युक्त स्थल संबद्ध के बारे में जानकारी प्रदान नहीं करते तो ऐसा हो सकता है कि यह गैर-जनता संबद्ध प्रोग्राम हो. यह सूचना प्राप्त करने का सबसे अच्छा तरीका है कि सीधे वेबसाइट स्वामी से संपर्क किया जाये.

                                     

6. भूतकालिक तथा वर्तमान मामले

संबद्ध विपणन की उत्पत्ति के समय से संबद्ध क्रियाओं के ऊपर थोड़ा ही नियंत्रण है। बेईमान संबद्धों द्वारा स्पाम, झूठे विज्ञापन, कृत्रिम क्लिक प्रयोक्ता कम्प्यूटर पर सेंट ट्रेकिंग कूकीज़ को प्राप्त करने के लिए, एडवेयर तथा अन्य विधियों का प्रयोग उनके प्रायोजकों की ओर बोझ को बढ़ाने के लिए किया गया है। यद्यपि कई संबद्ध प्रोग्रामों की सेवा की शर्तों में स्पाम के विरुद्ध नियम निहित होते है, ऐतिहासिक रूप से यह विपणन विधि स्पामर्स द्वारा गलत गतिविधियों को आकर्षित करने वाली सिद्ध हुई है।

                                     

6.1. भूतकालिक तथा वर्तमान मामले ई-मेल स्पैम

संबद्ध विपणन के प्रारंभिक काल में कई इंटरनेट प्रयोक्ताओं की इसके बारे में नकारात्मक राय थी क्योंकि संबद्ध प्रायः अपने नामित प्रोग्राम को प्रोत्साहित करने के लिए स्पाम का प्रयोग करते थे। जैसे - जैसे संबद्ध विपणन मजबूत हुआ है, कई संबद्ध व्यापारियों ने संबद्धों को स्पामिंग से वर्जित करने के लिये अपने नियम एवं शर्तें परिष्कृत की हैं।

                                     

6.2. भूतकालिक तथा वर्तमान मामले सर्च-इंजन स्पाम

जैसे ही सर्च इंजन अधिक महत्त्वपूर्ण हुआ, कुछ संबद्ध विपणकों ने ई-मेल स्पाम भेजने के स्थान पर स्वचालित रूप से सृजित वेब पेजेस को बनाने की ओर अपने को स्थानान्तरित कर लिया है जिसमें व्यापारियों द्वारा प्रदत्त उत्पाद डाटा फीड प्रायः निहित होता है। इस प्रकार के वेब पेजेज का लक्ष्य स्पाम डेक्सिंग के नाम से ज्ञात सर्च इंजन द्वारा इन्डेक्स किये गये संसाधनों की प्रासंगिकता अथवा विशिष्टता में फेरबदल करना होता है। प्रत्येक पृष्ठ को विशिष्ट कीवर्ड के प्रयोग के द्वारा विभिन्न बेहतर बाज़ार में लक्षित किया जा सकता है जिसका परिणाम सर्च इंजन ऑप्टिमाइजेशन का विषम प्रकार होता है।

आर्गेनिक सर्च इंजन, जिसका लक्ष्य उनके प्रयोगकर्ताओं द्वारा प्रविष्ट किये गये कीवर्ड या कथन के लिये गुणवत्तापूर्ण खोज परिणाम प्रदान करना होता है, हेतु स्पाम सबसे बड़ा खतरा है। 2006 में गूगल का पेज रेन्क कलन विधि अपडेट "बिग डेडी" - गूगल प्रमुख अपडेट का अंतिम चरण "जेगर" जो मध्य ग्रीष्म 2005 में प्रारंभ हुआ, ने भारी सफलता के साथ विशेष रूप से स्पामडेक्सिंग पर लक्ष्य किया था। इस अपडेट से गूगल अपने इंडेक्स से अधिकतर कम्प्यूटर-सृजित दोहरी सामग्री को हटाने में सक्षम हुआ।

अधिकतर संबद्ध लिंक निहित वेब साइटें गुणवक्ता पूर्ण सामग्री की कम आपूर्ति के लिये पूर्व में नकारात्मक प्रसिद्धि रखती थीं। 2005 में, गूगल ने इसमें प्रभावी परिवर्तन किये, जिसमें कुछ वेब साइटों को "कमजोर-संबद्ध" अंकित किया गया था। इस तरह की वेब साइटों को या तो गूगल के इन्डेक्स से हटा दिया गया अथवा परिणाम पेज में पुनः स्थापित किया गया जैसे कि सबसे शीर्ष परिणामों से हटाकर नीचे की स्थिति में ला दिया गया. इस वर्गीकरण से बचने के लिये, संबद्ध विपणक वेब मास्टर्स को उनकी वेबसाइट पर गुणवत्तापूर्ण सामग्री सृजित करनी चाहिये जो उनके कार्य एवं स्पामर्स अथवा बैनर फार्म्स के कार्य में अंतर कर सके, जो केवल व्यापारियों की साइटों के लिये संपर्क का माध्यम होती हैं।

कुछ उद्घोषकों ने मूल रूप से सुझाव दिया था कि संबद्धों के लिंक वेब साइट में ही निहित सूचना के संदर्भ में अच्छा कार्य करते हैं। उदाहरण के लिये, यदि किसी वेब साइट में किसी वेबसाइट प्रकाशन की सूचना निहित होती है, तो व्यापारी की वेबसाइट की सामग्री में ही इंटरनेट सेवा प्रदाता आय एस पी के लिये संबद्ध लिंक उपयुक्त होगा. यदि किसी वेबसाइट में खेलकूद से संबंधित जानकारी निहित होती है तो खेलकूद के बारे में कोई संबद्ध लिंक, खेलों की वस्तुओं तथा सूचना के संदर्भ में अच्छा कार्य कर सकते है। इस मामले में लक्ष्य वेबसाइट में ही गुणवत्तापूर्ण सूचना को प्रकाशित करना तथा संबंधित व्यापारियों की वेबसाइट को संदर्भोन्मुख लिंक प्रदान करना होता है।

यद्यपि, अधिक नवीनतम उदाहरण कमजोर - संबद्ध साइट का है जो कि सेवा प्रदान करने के द्वारा उपभोक्ताओं हेतु मूल्य सृजित करने के लिये संबद्ध विपणन मॉडल का प्रयोग कर रहे है। ये कमजोर सामग्री सेवा संबद्ध निम्नलिखित तीन श्रेणियों में वर्गीकृत हैं:

  • कारण संबंधी विपणन
  • समय बचत
  • मूल्य तुलना
                                     

6.3. भूतकालिक तथा वर्तमान मामले एडवेअर

यद्यपि यह स्पाईवेअर से भिन्न है, परंतु एडवेअर उन्हीं विधियों तथा प्रौद्योगिकियों का प्रयोग करता है। व्यापारी प्रारंभ में एडवेअर से अनजान थे कि उसका क्या प्रभाव होगा तथा यह उनके ब्रान्ड को कितना नुकसान करेगा. संबद्ध विपणक इस मसले को जल्द ही जान गये, विशेष रूप से इस कारण से, कि उन्होंने पाया कि एडवेअर ट्रेकिंग कुकीज पर प्रायः पुनः लेखन ओवर राइट करता है जिससे कमीशन में कमी आती है। एडवेअर को लागू नहीं करने वाले संबद्धों ने पाया कि वह उनसे कमीशन की चोरी कर रहा है। प्रायः एडवेअर का कोई महत्त्वपूर्ण उद्देश्य नहीं होता, तथा यह उपभोक्ता को शायद ही उपयोगी सामग्री प्रदान करता है, जो विशेष रूप से अनजान होता है कि इस तरह का सॉफ्टवेयर उनके कम्प्यूटर में स्थापित है।

संबद्धों ने मसलों पर इंटरनेट फोरम में विचार-विमर्श किया तथा प्रयासों को संगठित करना प्रारंभ किया। उन्होंने विश्वास किया कि इस समस्या से मुक्ति पाने का सबसे अच्छा तरीका एडवेअर के माध्यम से व्यापारियों के विज्ञापन करने को निरुत्साहित किया जाये. वे व्यापारी जो एडवेअर के प्रति उदासीन या उसके समर्थक थे, उन्हें संबद्धों ने अनावृत कर दिया, जिससे उन व्यापारियों की प्रतिष्ठा को नुकसान पहुंचा तथा उनके संबद्ध विपणन प्रयासों को धक्का लगा. कई संबद्धों ने या तो ऐसे व्यापारियों का उपयोग समाप्त कर दिया अथवा प्रतियोगी के संबद्ध प्रोग्राम से जुड़ गये। अंततोगत्वा, संबद्ध नेटवर्कों पर व्यापारियों एवं संबद्धों द्वारा समुचित कदम उठाने हेतु एवं अपने नेटवर्क से निश्चित एडवेअर प्रकाशकों को प्रतिबंधित करने के लिये दबाव डाला गया। इसका परिणाम कमीशन जंक्शन/ बी फ्री तथा परर्फामिक्स द्वारा आचार संहिता, लिंक शेअर का हिंसा रोधी विज्ञापन परिशिष्ट, तथा शेअर ए सेल्स का विज्ञापन ऑफर को प्रोत्साहन देने के लिये संबद्धों के लिये माध्यम के रूप में सॉफ्टवेयर एप्लीकेशन्स का पूर्ण प्रतिबंध था। प्रगति के बावजूद भी एडवेअर लगातार एक मसला रहा है, जैसा कि वैल्यु क्लिक तथा उसकी सहयोगी कंपनी कमीशन जंक्शन के विरुद्ध 20 अप्रैल 2007 को दायर क्लास एक्शन मुकदमे द्वारा प्रदर्शित किया गया है।

                                     

6.4. भूतकालिक तथा वर्तमान मामले ट्रेडमार्क बोली

संबद्ध, भुगतान प्रति क्लिक विज्ञापन को सबसे पहले अपनाने वालों में से थे जब पहला भुगतान प्रति क्लिक सर्च इंजन 1990 के दशक के अंत में उभर कर सामने आया। 2000 के अंत में गूगल ने अपनी भुगतान प्रति क्लिक सेवा,

                                     

6.5. भूतकालिक तथा वर्तमान मामले विक्रय कर भेद्यता

अप्रैल 2008 में, न्यूयार्क राज्य ने एमेजॉन के न्यूयार्क आधारित वेबसाइट से संबद्ध लिंकों के अस्तित्व के आधापर एमेजोनडॉटकॉम द्वारा न्यूयार्क के निवासियों को किये गये विक्रय पर विक्रय कर अधिकार क्षेत्पर जोर देते हुए एक मद राज्य के बजट में शामिल की. राज्य दावा करता है कि एक भी ऐसा संबद्ध जो राज्य में एमेजान के व्यापार को गठित करता है, राज्य के निवासियों को एमेजॉन की सभी बिक्री पर न्यूयार्क में कर लगाने के लिये पर्याप्त है। एमेजॉन ने संशोधन को चुनौती दी तथा जनवरी 2009 में उसे न्यायालय में हार का सामना करना पड़ा. वर्तमान में मामला न्यूयार्क पुनर्विचार न्यायालय में चल रहा है।

                                     

6.6. भूतकालिक तथा वर्तमान मामले कुकी स्टफिंग

कुकी स्टफिंग में आगंतुक के कम्प्यूटर वेबसाइट पर बगैर उसकी जानकारी के एक संबद्ध ट्रेकिंग कुकी को स्थापित करना शामिल है, जो बाद में कुकी स्टफिंग करने वाले व्यक्ति के लिये राजस्व सृजित करता है। यह न केवल धोखाधड़ी पूर्ण संबद्ध विक्रय को सृजित करता है, परंतु अन्य कुकीज नेटवर्क में उनके द्वारा वैद्य तरीके से कमाये गये कमीशन की चोरी करके पुनः लेखन करने की संभावना रखता है।

                                     

6.7. भूतकालिक तथा वर्तमान मामले भेद खोलने हेतु क्लिक

कई वाउचर कोड वेबसाइट प्रारुप को प्रकट करने के लिये क्लिक का प्रयोग करते है जिसमें वेबसाइट उपयोगकर्ता को वाउचर कोड को भेदने हेतु क्लिक करने की आवश्यकता होती है। क्लिक करने की क्रिया कुकीज़ को वेबसाइट आगंतुक के कम्प्यूटर पर स्थापित करती है। आयएबी IAB ने कहा है कि "संबद्धों को ऐसे किसी तंत्र का प्रयोग नहीं करना चाहिये; जिसमें उपयोगकर्ता ऐसी सामग्री के साथ इन्टरेक्ट करने के लिये क्लिक करने के लिये प्रोत्साहित किया जाये जहां यह अस्पष्ट तथा भ्रमित है कि उसका परिणाम क्या होगा."

                                     
  • व पणन एव न र क षण न द श लय व पणन और न र क षण न द श लय DMI क ष और क स न कल य ण म त र लय क तहत क ष सहक र त और क स न कल य ण व भ ग क एक स बद ध क र य लय
  • ह और उन द श क व पणन पर य वरण क प रत अध क स बद ध ह ज त ह ज नम वह व य प र कर रह ह क छ पर भ ष ए शब द व श व क व पणन क स दर भ त करत ह
  • र ष ट र य क ष व पणन स स थ न एनआईएएम 8 अगस त 1988 क र जस थ न क जयप र म क ष व पणन कर म य क जर रत क प र करन और व श ष प रश क षण, अन स ध न
  • क ल म टर उत तर प र व द श म स थ त ह क ष उत प द क एक महत त वप र ण व पणन स थल यह नगर हथकरघ उद य ग क व ख य त क द र ह 1940 क दशक स यह क फ
  • उत प द क व पणन म स ध र ल न न र य त न म ख उत प दन क प र त स हन और अन स च त उत प द क व क स उत प दन, प रस स करण, प क ज ग, व पणन य अन स च त
  • प रश क षण ज न यर स क ल क क र यक रम प रश सन व क स, क ष त र क भ तर व पणन और क र क ट श व र ईएप भ आईस स ईएप क र क ट ट र फ ज क ष त र य अ तरर ष ट र य
  • स रक ष स स बद ध श ल क, लग ए गए श ल क क स ख य बत न व ल अलग व वरण और भ र मक व ज ञ पन क र कन क ल ए अन दरण स रक ष य जन क व पणन पर प रत ब ध
  • एपक च च ब व द ध आद उत प दक सहक र सम त य क उद हरण ह सहक र व पणन सम त य : य सम त य उन छ ट उत प दक और न र म त ओ द व र बन ई ज त
  • न त स गठन त मक व यवह र, स व स थ य स ज ड स गठन क प रब धन, स व स थ य व पणन और स च र, म नव स स धन प रब धन, स चन प रण ल प रब धन क अध ययन एव अन य
  • स व ल इ ज न यर प रभ ग व द य त अन रक षण प रभ ग प स तक लय एव स चन क द र व पणन प रच र एव य जन प रभ ग स मग र अन रक षण य त र क अन रक षण र जभ ष अन भ ग
  • एक य दग र स र थक और स क ष प त बय न ल ख ड ज इन ट म पल ट स क ल ए अपन व पणन स मग र क ल ए ब र ड म नक क बन न और द ख और भर म महस स ह रह ह
                                     
  • उद य ग क प रत य क क ष त र ख ज, उत प दन, पर वहन, श धन और व पणन म सक र य थ इसन स वय क स बद ध उद य ग ज स प ट र क म कल स, ऑट म ब इल घटक न र म ण म
  • इसक अल व यह अपन क पस पर सर क 2, 24, 000 स अध क छ त र और व भ न न स बद ध क ल ज क स थ उपमह द व प क सबस बड व श वव द य लय प रण ल य म स एक
  • व ज ञ पन व पणन और व ज ञ पन क एक र प ह ज उपभ क त ओ क प रच र व पणन स द श द न क ल ए इ टरन ट क उपय ग करत ह इसम ईम ल व पणन ख ज इ जन व पणन एसईएम
  • जह ज फ ल इट रस ई म ख नप न अध क र ह टल बह र ष ट र य क पन य म व पणन ब क र क र यक र ग र हक अध क र य क द खभ ल करत ह सशस त र बल
  • स ब ध त ह भ त क व तरण म ग र हक व पणन च नल क अ त म लक ष य ह और उत प द स व क उपलब धत हर भ ग द र च नल क व पणन प रय स क एक महत वप र ण ह स स ह
  • म क षमत प द करन क शल व क स प र श क षण, ऋण, प र द य ग क हस त तरण, व पणन और ढ च गत सह यत पर व श ष बल द य ज त ह य जन क अ तर गत सब स ड क ल
  • द व र प रब ध त ह और प श वर द व र चल य ज रह ह ग जर त सहक र द ग ध व पणन स घ GCMMF क स स थ पक अध यक ष ह न क न त ड क र यन अम ल इ ड य क
  • पर वहन क स व ध क बढ न ब ढ और स ख क र कथ म क न य त रण म करन व पणन क व क स क ल ए न व श क आवश यकत स तर, भ ड रण और क ल ड स ट र ज ब न य द
  • च ड गढ एसस एफ 387, एमएम मन म जर च ड गढ य ट च ड गढ च ड गढ हम व पणन द म ग क एक सम ह ह ज न ह न व यवस य और प श वर क अपन स वय क ब र ड
  • तत क ल न स ब एस CBS स बद ध स द रस थ त सर थ और ग र प डब ल W प वरह उस क ड क ए - ट व KDKA - TV और पहल स म ज द एब स ABC स बद ध डब ल ट एई - ट व WTAE - TV
                                     
  • म ड य LLC क एक प रभ ग फ र ब स ड ज टल क एक ह स स ह Forbes.com और स बद ध स पत त य म श म ल ह Forbes.com स इट Investopedia.com स इट Realclearpolitics
  • सम बद ध र जस व क भ गत न एक ऐस स बद ध क करन पड त ह ज अन ब ध क प र ट नह ह स बद ध ध ख धड अध क श स बद ध व पणन न टवर क स व शर त क उल ल घन
  • इ द र स भ ग क म ख य व क न द र य म ड ह यह स य ब न क ल य द श क प रम ख व पणन क न द र ह इसक अल व यह पर स ग ह चन ड लर चन सभ प रक र क द ल
  • इनक य ब टर क भ म क न भ एग ज ख म प ज प र प त करन म सह यत कर ग व पणन म मदद कर ग और आईप आर द ख ल करन म मदद कर ग उन ह न कह क एसट प आई
  • ज त ह ह ल क अन य अध क र - क ष त र म श यर क स थ समम ल य ब ल क ल स बद ध नह ह सकत ह ऐस स ट क क अक सर समम ल य तर स ट क कह ज त ह श यर क र ब र
  • क पन 1990 क दशक म क पन न एक ख शब न र म त और व पणन क र प म व श व म अग रण जगह बन ई भ र व पणन न व श न र जस व म व द ध क म सन ड च नल क सफलत
  • ह क छ प क ज और ल बल क उपय ग ट र क ए ड ट र स क ल ए भ क य ज त ह व पणन - व पणक द व र प क ज ग और ल बल क इस त म ल स भ व त खर दद र क उत प द
  • म स व - व त तप ष त स स थ न स बद ध ग जर त तकन क व श वव द य लय 7026 2814 क स थ स व - व त तप ष त स स थ न स बद ध प र इव ट य न वर स ट क स थ 2925 1734
  • म एक सक र त मक म ह ल त य र ह आ फ ल म क ट र लर तथ स ग त न भ इसक व पणन म सह यत क कर ड र पय क बजट पर बन यह फ ल म नव बर क द व ल

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →