ⓘ मुक्त ज्ञानकोश. क्या आप जानते हैं? पृष्ठ 261

भारत में मधुमक्खी पालन

भारत में मधुमक्खी पालन का प्राचीन वेद और बौद्ध ग्रंथों में उल्लेख किया गया हैं। मध्य प्रदेश में मध्यपाषाण काल की शिला चित्रकारी में मधु संग्रह गतिविधियों को दर्शाया गया हैं। हालांकि भारत में मधुमक्खी पालन की वैज्ञानिक पद्धतियां १९वीं सदी के अंत म ...

मधु

अगर आप मधु शब्द के बारे में लेख ढूंढ रहे हैं तो मधु शब्द देखिये मधु या शहद एक मीठा, चिपचिपाहट वाला अर्ध तरल पदार्थ होता है जो मधुमक्खियों द्वारा पौधों के पुष्पों में स्थित मकरन्दकोशों से स्रावित मधुरस से तैयार किया जाता है और आहार के रूप में मौनग ...

मधुमक्खी पालन

मधु, परागकण आदि की प्राप्ति के लिये मधुमक्खियाँ पाली जातीं हैं। यह एक क्रिषि आधारित उद्योग है। मधुमक्खियां फूलों के रस को शहद में बदल देती हैं और उन्हें अपने छत्तों में जमा करती हैं। जंगलों से मधु एकत्र करने की परंपरा लंबे समय से लुप्त हो रही है। ...

मधुमोम

मधुमोम या मधुमक्खियों का मोम, एपिस वंश की मधुमक्खियों द्वारा उनके छत्ते में उत्पादित एक प्राकृतिक मोम है। प्रत्येक श्रमिक मक्खी के उदर में उपस्थित आठ मोमोत्पादक ग्रंथियों द्वारा मोम का उत्पादन किया जाता है। इन ग्रंथियों का आकार श्रमिक की आयु और उ ...

मोज़ेक

किसी अजैविक पदार्थ के छोटे-छोटे टुकड़े सधन जमा कर, किसी सतह को सजाने की कला मोज़ेक या चिंत्तन संपूर्ति कहलाती है। इस प्रकार सजी हुई सतह के लिये भी मोजेइक शब्द का प्रयोग होने लगा है। अजैविक पदार्थ में प्राय: पत्थर, काँच, सीपी, या टाइल का प्रयोग हो ...

सूरजकुण्ड

हरियाणा की पर्यटन विभाग ने 1987 में शुरू किया था। तब से हर साल इन्ही दिनों ये मेला लगता है। इस मेले का मुख्य आकर्षण है कि भारत के सभी राज्यों में से सबसे अच्छा शिल्प उत्पादों को एक ही स्थान पर जहाँ आप न देख सकते बल्कि उन्हें महसूस कर सकते हैं और ...

हस्तशिल्पकार

"आधार}} हस्तशिल्पकार या हस्तशिल्पी या दस्तकार artisan ऐसे व्यक्तियों को कहते हैं जो अपने हाँथों के कौशल से सजावट की चीजें या अन्य चीजें बनाते हैं। हस्तशिल्पी अन्य चीजों सहित लकड़ी की वस्तुएं, वस्त्र, आभूषण, खिलौने, घरेलू सामान, एवं औजार आदि बनाते ...

विलियम कैरी (मिशनरी)

विलियम कैरी एक अंग्रेजी बैप्टिस्ट मिशनरी और सुधरे हुए बैप्टिस्ट मंत्री थे जिन्हें आधुनिक मिशन का जनक कहा जाता है। कैरी, बैप्टिस्ट मिशनरी सोसाइटी के संस्थापकों में से एक थे। भारत के श्रीरामपुर की डेनिश कॉलोनी के एक मिशनरी के रूप में उन्होंने बंगला ...

दांते एलीगियरी

दाँते एलीगियरी मध्यकाल के इतालवी कवि थे। ये वर्जिल के बाद इटली के सबसे महान कवि कहे जाते हैं। ये इटली के राष्ट्रकवि भी रहे। उनका सुप्रसिद्ध महाकाव्य डिवाइन कॉमेडिया अपने ढंग का अनुपम प्रतीक महाकाव्य है। इसके अतिरिक्त उनका गीतिकाव्य वीटा न्युओवा, ...

भार्गवी राव

भार्गवी प्रभंजन राव, तेलुगू भाषा की प्रख्यात अनुवादक थी, जिन्हें साहित्य अकादमी पुरस्कार प्राप्त था। अपने जीवन कल में वे सक्रिय रूप से लेखक और नाटककार गिरीश कर्नाड के विभिन्न कार्यों के अनुवाद में शामिल रही थीं। उनके सृजन कर्म के अंतर्गत प्रकाशित ...

कौशल्या बैसंत्री

कौशल्या बैसन्त्री एक दलित लेखिका थीं। महाराष्ट्र में जन्मीं बैसंत्री अम्बेडकर की समकालीन छात्र नेता और सामजिक कार्यकर्त्री थीं।२४ जून २०११ को इनका निधन हो गया।

जनाबाई

भक्ति मार्ग की बहुज्ञानी उपेक्षिता - संत जनाबाई जनाबाई एक महान भक्ति काव्य धारा की कवयित्री थी । इस समृद्ध पृष्ठभूमि पर जनाबाई का नाम एक उपेक्षित किंतु बहुगुण संपन्न संत कवयित्री के रुप में लेना होगा। जनाबाई महाराष्ट्र की एकमात्र ऐसी संत कवयित्री ...

मीना कंदासामी

इलवेनिल मीना कंदासामी एक भारतीय कवि, कथा लेखिका, अनुवादक और कार्यकर्ता हैं जो चेन्नई, तमिलनाडु, भारत से हैं। उनके अधिकांश कार्य नारीवाद और समकालीन भारतीय मिलिशिया के जाति-विरोधी अनीहीकरण आंदोलन पर केंद्रित हैं। 2013 तक, मीना ने कविता के दो संग्रह ...

गार्सा द तासी

गार्सा द तासी का जन्म फ्रांस में हुआ था। उर्दू -हिन्दी अथवा हिन्दुस्तानी साहित्य का सर्व प्रथम इतिहास ग्रंथ इस्त्वार द ल लितरेत्यूर ऐंदुई ऐ ऐंदुस्तानी" इन्हीं का लिखा हुआ है। गार्सा द तासी ने भारत के लोकप्रिय उत्सवों का भी विवरण प्रस्तुत किया है। ...

द इंटरप्रिटेशन ऑफ ड्रीम्स

द इंटरप्रिटेशन ऑफ ड्रीम्स सिग्मंड फ्रायड की रचना है। इस पुस्तक में फ्रायड ने अपने मनोवैज्ञानिक अध्ययन के द्वारा सपनों के आने के कारणों का विस्तृत विवेचन किया है । उन्होंने सपने क्यों आते हैं तथा वे अर्थपूर्ण होते हैं या नहीं इत्यादि प्रश्नों का उ ...

हुमायून अहमद

हुमायून अहमद एक बांग्लादेशी औपन्यासिक, गल्पकार, नाट्यकार, गीतकाऔर फ़िल्म निर्माता थे। वे बीसवी सदी के लोकप्रिय बंगाली साहित्यिकों में से एक हैं। उनको बांग्लादेश के स्वतंत्रता परवर्ती श्रेष्ठ लेखक माना जाता हैं। बंगाली गद्यसाहित्य में उन्होंने एक ...

बेणीमाधव बड़ुया

डॉ. बेणीमाधव बड़ुया एक भारततत्त्वविद, पालि व बौद्धशास्त्र के विद्वान थे। उनका जन्म चट्टग्राम में हुआ था जो अब बांग्लादेश में है।

भदन्त आनन्द कौसल्यायन

डॉ॰ भदन्त आनन्द कौसल्यायन 5 जनवरी 1905 - 22 जून 1988 बौद्ध भिक्षु, पालि भाषा के मूर्धन्य विद्वान तथा लेखक थे। इसके साथ ही वे पूरे जीवन घूम-घूमकर समतामूलक समाज का प्रचार प्रसार करते रहे। वे 10 साल राष्ट्रभाषा प्रचार समिति, वर्धा के प्रधानमंत्री रह ...

शब्दकोश

अनुवाद
Free and no ads
no need to download or install

Pino - logical board game which is based on tactics and strategy. In general this is a remix of chess, checkers and corners. The game develops imagination, concentration, teaches how to solve tasks, plan their own actions and of course to think logically. It does not matter how much pieces you have, the main thing is how they are placement!

online intellectual game →